About Us

Print

उच्च शिक्षा के क्षेत्र में अविभाजित उत्तर प्रदेश में उत्तराखण्ड का गौरवशाली इतिहास रहा है। नवगठित उत्तराखण्ड राज्य के 24 विश्वविद्यालयों, 70 राजकीय महाविद्यालयों, 15 अनुदानित महाविद्यालयों, तथा 266 निजी शिक्षण संस्थानों में प्रदेश के 2,74,953 विद्यार्थी सामान्य, व्यावसायिक व  तकनीकी शिक्षा से सम्बंधित विभिन्न पाठ्यकर्मो की उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे है। प्रदेश में 1 केन्द्रीय विश्वविद्यालय, 9 राज्य विश्वविद्यालय, 4 डीम्ड विश्वविद्यालय तथा 10 निजी विश्वविद्यालय स्थापित हैं जिसमें से चार राज्य विश्वविद्यालय (कुमाऊं , मुक्त, दून तथा श्रीदेव सुमन विश्वविद्यालय) उच्च शिक्षा के क्षेत्रान्तर्गत आते हैं । उत्तराखण्ड राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय की स्थापना के लिए वर्ष 2011 में अधिनियम पारित किया गया है जिसकी स्थापना भविष्य में की जानी प्रस्तावित है। प्रदेश में राष्ट्रीय महत्व के तीन संस्थान (भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, रुड़की, राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, श्रीनगर तथा भारतीय प्रबन्ध संस्थान, काशीपुर) भी संचालित हैं।