उच्च शिक्षा किसी भी क्षेत्र के सामाजिक, आर्थिक एवं सांस्कृतिक विकास का एक महत्वपूर्ण दर्पण है। मानवीय संसाधनों के सर्वागीण विकास में उच्च शिक्षा की अहम् भूमिका है। भारतीय उच्च शिक्षा व्यवस्था को अमेरिका व चीन के पश्चात  विश्व  में तीसरी सबसे बड़ी व्यवस्था होने का गौरव प्राप्त है। राष्ट्रीय विकास में ‘ ज्ञान व शोध ’ के महत्व को दृष्टिगत रखते हुए केन्द्र तथा राज्य  सरकारों द्धारा  उच्च शिक्षा के विकास के लिए अनेक प्रयास किये जा रहें है। 

उत्तराखण्ड  राज्य की स्थापना के पश्चात 20 वर्ष की अवधि में संख्यात्मक दृष्टि से प्रदेश में उच्च शिक्षा का द्रुतगति से विकास हुआ है। वर्तमान में प्रदेश में 33 विश्वविद्यालय (11 राज्य विश्वविद्यालय, 01 केन्द्रीय विश्वविद्यालय, 03 डीम्ड विश्वविद्यालय एवं 18 निजी विश्वविद्यालय) 03 राष्ट्रीय महत्त्व के संस्थान, 119 शासकीय महाविद्यालय, 21 अशासकीय महाविद्यालय एवं अनेक अन्य निजी संस्थान संचालित है l 

उच्च शिक्षा विभाग , उत्तराखण्ड अब सोशल मीडिया पर भी उपलब्ध है।

उच्च शिक्षा से संबंधित योजनाओं और नीतियों के व्यापक प्रचार प्रसार के उद्देश्य से विभाग द्वारा अधिकारिक रूप से अपना सोशल मीडिया एकाउंट बनाया गया है। विभाग द्वारा फेसबुक और ट्विटर के माध्यम से आधिकारिक रूप से अपनी सूचनायें साझा की जा रही हैं। उच्च शिक्षा विभाग  के आधिकारिक  फेसबुक आई डी HE Uttarakhand, फेसबुक पेज Higher Education Uttarakhand तथा ट्विटर एकाउंट Higher Education Uttarakhand के माध्यम से जुड़ा जा सकता है। उच्च शिक्षा विभाग के youtube पर संचालित शैक्षणिक चैनल Uttarakhand Tele Education Network - EDUSAT में विषय विशेषज्ञों के व्याख्यानों हेतु अवलोकन करें l

लोक सेवा आयोग से होने वाली भर्तियों हेतु कृपया https://www.upsc.gov.in का अवलोकन करें

उत्तराखण्ड लोक सेवा आयोग से होने वाली भर्तियों हेतु कृपया वेबसाइट https://www.ukpsc.gov.in का अवलोकन करें l

समूह-ग की भर्तियों के लिए कृपया उत्तराखण्ड अधिनस्थ चयन आयोग की वेबसाइट https://sssc.uk.gov.in का अवलोकन करें l