Uttarakahnd

उच्च शिक्षा किसी भी क्षेत्र के सामाजिक, आर्थिक एवं सांस्कृतिक विकास का एक महत्वपूर्ण दर्पण है। मानवीय संसाधनों के सर्वागीण विकास में उच्च शिक्षा की अहम् भूमिका है। भारतीय उच्च शिक्षा व्यवस्था को अमेरिका व चीन के पश्चात  विश्व  में तीसरी सबसे बड़ी व्यवस्था होने का गौरव प्राप्त है। राष्ट्रीय विकास में ‘ ज्ञान व शोध ’ के महत्व को दृष्टिगत रखते हुए केन्द्र तथा राज्य  सरकारों द्धारा  उच्च शिक्षा के विकास के लिए अनेक प्रयास किये जा रहें है। 

उत्तराखण्ड  राज्य की स्थापना के पश्चात 20 वर्ष की अवधि में संख्यात्मक दृष्टि से प्रदेश में उच्च शिक्षा का द्रुतगति से विकास हुआ है। वर्तमान में प्रदेश में 33 विश्वविद्यालय (11 राज्य विश्वविद्यालय, 01 केन्द्रीय विश्वविद्यालय, 03 डीम्ड विश्वविद्यालय एवं 18 निजी विश्वविद्यालय) 03 राष्ट्रीय महत्त्व के संस्थान, 106 शासकीय महाविद्यालय, 18 अशासकीय महाविद्यालय एवं अनेक अन्य निजी संस्थान संचालित है l